छात्रवृत्ति आवेदन पत्रों के आक्षेप पूर्ति के लिए 15 सितम्बर तक अंतिम अवसर इसके बाद स्थायी रूप से आवेदन पत्र होंगे निरस्त

छात्रवृत्ति आवेदन पत्रों के आक्षेप पूर्ति के लिए 15 सितम्बर तक अंतिम अवसर इसके बाद स्थायी रूप से आवेदन पत्र होंगे निरस्त

जयपुर, 22 अगस्त। उत्तर मैट्रिक छात्रवृत्ति योजनान्तर्गत वर्ष 2015-16 के दौरान राजकीय एवं निजी मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थाओं एवं राज्य के बाहर की राष्ट्रीय स्तर की राजकीय शिक्षा संस्थानों के पाठ्यक्रमों में ऑनलाईन छात्रवृत्ति आवेदन पत्रों में लगे आक्षेपों की पूर्ति के लिए 15 सितम्बर, 2017 तक अंतिम अवसर दिया गया है।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के निदेशक डॉ. समित शर्मा ने बताया कि 15 सितम्बर, 2017 तक विद्यार्थी द्वारा सम्बन्धित शिक्षण संस्थाओं को एवं शिक्षण संस्थाओं द्वारा प्रपोजल लॉक कर send proposal के माध्यम से लॉक कर आक्षेपित आवेदन पत्र स्वीकृतकर्ता अधिकारी को ऑनलाईन नहीं करने की स्थिति में 15 सितम्बर, 2017 के बाद छात्रवृत्ति आवेदन पत्रों को स्थायी रूप से निरस्त कर पोर्टल का लिंक निष्कि्रय कर दिया जायेगा।

डॉ. शर्मा ने बताया कि ऑनलाईन आवेदन पत्रों में से कुछ आवेदन पत्रों में आंशिक कमियां होने के कारण स्वीकृतकर्ता अधिकारी एवं शिक्षण संस्थाओं द्वारा आक्षेपित किया गया था। किन्तु अनेक अवसर दिये जाने के उपरान्त अब तक विद्यार्थियों एवं शिक्षण संस्थाओं द्वारा आक्षेपों की पूर्ति कर स्वीकृतकर्ता अधिकारी को प्रेषित नहीं किये गये।

ऎसे प्रकरणों में सम्बन्धित विद्यार्थियों एवं संस्थाओं से अपील की जाती है कि आक्षेपों की पूर्ति कर स्वीकृतकर्ता अधिकारी को 15 सितम्बर, 2017 तक ऑनलाईन प्रेषित करें जिससे छात्रवृत्ति का भुगतान किया जा सके।

Categories: Breaking News

About Author

Hemendra Soni

M.D. & Chief Editor of BeawarDailyNews.com

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*

three × 1 =

*