सोशियल मीडिया से बढ़ने लगी लोगो को अपेक्षाए

सोशियल मीडिया से बढ़ने लगी लोगो को अपेक्षाए

*BDN*
*सोशियल मीडिया से बढ़ने लगी लोगो को अपेक्षाए*
आज के इस संचार क्रान्ति के यूग में जेसे जेसे इंटरनेट सेवाओं का विस्तार होता जा रहा हे, वेसे वेसे आम जन को सूचनाओं के आदान प्रदान में आसानी हो रही हे | सूचनाओं के प्रसारण में अभूतपूर्व तेजी इन दिनों देखने को मिल रही हे | इसका मुख्य कारण हे *”सोशियल मीडिया”* एवं *इलोक्ट्रोनिक मिडिया*  जी हां आज के इस क्रांतिकारी युग में हे *”सोशियल मीडिया”* एवं *इलोक्ट्रोनिक मिडिया* में लोगो की निर्भरता बढ़ी हे और अब धीरे धीरे विश्वास भी बढ़ने लगा हे |
जहा कुछ वर्षो पहले समाचारों के लिए प्रिंट मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका थी इसके साथ ही रेडियो पर निर्भरता थी | उसके बाद चित्र और वीडियो सहित शीघ्र और ताजा समाचारों के प्रसारण के लिए लोगो में टेलीविजन पर निर्भरता और प्राथमिकता थी वह आज भी हे, एवं अब आज के इस बदलते युग में देश और विदेश की ताजा और शीघ्र समाचारों के लिए वो भी चित्रों और घटना क्रम की वीडियो सहित *”सोशियल मीडिया”* एवं *इलोक्ट्रोनिक मिडिया*  पर निर्भरता और विश्वास बढ़ने लगा हे | जिस प्रकार इंटरनेट की स्पीड 4 g की मिलने लगी हे और उसमे अब 5 g एवं 6 g की बाते होने लगी हे और इसमें सुधार होने की संभावना भी प्रबल हे उस कारण अब ब्रेकिंग न्यूज के समय फोटो, बड़े बड़े वीडियो और अब तो लाइव टेलीकास्ट भी सोशियल मीडिया पर पापुलर हो रहा हे |
जब से सोशियल मीडिया पर लाइव टेलीकास्ट शुरू हवा हे तब से सोशियल मिडिया की विश्वसनीयता में सुधार हवा हे इस कारण सोशियल मीडिया से लोगो को अपेक्षाए भी बढ़ने लगी हे | बड़े बड़े मिडिया घराने भी अब सोशियल मिडिया पर अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हे और इसके लिए बाकायदा एक अलग डिपार्टमेंट खोल दिया गया जिसमे सोशियल मिडिया को कवर किया जाता हे एवं उस पर निगाहें रखी जाती हे और एसा अनेक बार हवा हे जिसमे सोशियल मीडिया पर आई खबरों और सूचनाओं को मीडिया क्षेत्रो से जुड़े लोगो ने प्राथमिकता के साथ स्वीकार किया हे और उस पर अपनी खबर भी छापी और टेलीकास्ट किया हे |
आज के इस तेजी से बदलते युग में *”सोशियल मीडिया”* एवं *इलोक्ट्रोनिक मिडिया* पर आम जनता की निर्भरता बढ़ी हे, और इसमें और इजाफा होने की पूरी संभावना हे इससे कोई इनकार नहीं कर सकता |
*”सोशियल मीडिया”* एवं *इलोक्ट्रोनिक मिडिया* आज की आवश्यकता बन चुकी हे, यह आज के युवा लोगो की पहली पसंद हे और इसके साथ साथ अन्य लोगो ने भी इसे स्वीकार किया हे |
*पुरानी, फर्जी और भ्रामक खबरे सोशियल मिडिया की कमजोरी*
सोशियल मीडिया पर समाचार भेजते समय लोगो से भी यही उम्मीद होती हे की वो सोशियल मिडिया पर फर्जी खबरे और पुरानी खबरों को भेजने से अपने आप को बचाए, खबरे भेजने के पहले हो सके तो उस खबर की सच्चाई की पुष्टि करे अन्यथा ना भेजे | अधिकाश होता यह की कोइ भी खबर भेजते समय भेजने वाले के दिमाग में यह बात होती हे की इस खबर को सबसे पहले में भेजू जिससे लोगो में में अपनी इमेज कायम कर सकू, लेकिन एसा करना सोशियल मीडिया की विश्वसनीयता पर भारी पड़ती हे |
सोशल मीडिया पर फेक न्यूज के प्रति जहा सरकार भी गंभीर है वही सोशल मीडिया वाट्सप, फेशबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम आदि प्लेटफार्म प्रदान करने वाली कंपनियां भी फेक न्यूज के प्रति सजगता से काम कर रही है । जिससे आने वाले समय में सोशल मीडिया के प्रति विश्वास और बढेगा
लेकिन इतना सब होने के बाद भी आम जन के दिमाग में सोशियल मिडिया का नशा सर चढ़ कर बोल रहा हे |
*हेमेन्द्र सोनी @ BDN जिला ब्यावर*

About Author

Hemendra Soni

M.D. & Chief Editor of BeawarDailyNews.com

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*

11 − six =

*