लोकसभा के उपचुनाव में नामांकन भरने के लिए इतनी भीड़ बनी जनता की मुसीबत रोडवेज को करनी पड़ी 8 बसे निरस्त

लोकसभा के उपचुनाव में नामांकन भरने के लिए इतनी भीड़ बनी जनता की मुसीबत रोडवेज को करनी पड़ी 8 बसे निरस्त

*BDN*
*लोकसभा के उपचुनाव में नामांकन भरने के लिए इतनी भीड़ बनी जनता की मुसीबत रोडवेज को करनी पड़ी 8 बसे निरस्त*
अजमेर में होने वाले लोकसभा के उपचुनाव में बुधवार को अजमेर में नामांकन दाखिल करने का अंतिम दिन था इस दिन दोनो प्रमुख पार्टिया भाजपा और कांग्रेस के प्रत्याशियों ने अपने अपने नामांकन दाखिल किए । नामांकन दाखिल करने की आड़ में शक्ति प्रदर्शन किया गया । आस पास के इलाके के सेकड़ो कार्यकर्ता सुबह से गाड़ियों में भर भर कर आने लगे जिस कारण अजमेर में ट्रेफिक की समस्या खड़ी हो गई प्रातः काल सुबह स्कूल व अन्य रोजमर्रा के लिए निकलने वालो को जगह जगह लगने वाले जाम से जूझना पड़ा । इस कारण आम जनता को भारी परेशानी हुई ।
सबसे ज्यादा मुसीबत हुई रोडवेज में यात्रा करने वालो की । कलेक्ट्रेट में बेतहासा चुनावी भीड़ के कारण वहा का निकासी का रास्ता बंद हो गया ओर तो ओर इस भीड़ के चलते रोडवेज के गेट को बंद करा दिया गया । जिस कारण वहा से गाड़ीयो का आना जाना बुरी तरह प्रभावित हो गया । जिससे रोडवेज की बसों में सेकड़ो यात्री बस स्टेंड पर ही बसों में कैद हो कर रह गए । एक ही गेट से बसों का संचालन होने के कारण, ओर कुछ बसो ने अपनी सवारियां सावित्री कालेज चौराहे पर ही उतार दी, इस वजह से रोडवेज में यात्रा करने वालो को परेशानी उठानी पड़ी और चुनावी भारी भीड़ के कारण रोडवेज को 8 बसे रद्द करनी पड़ी सो अलग, जिस कारण कई मुसाफिर अपने गंतव्य पर जाने के लिए इंतजार करते रहे । दोपहर 3 बजे तक बसों का संचालन सामान्य हो पाया ।
क्या केवल चुनाव का फार्म भरने के लिए इतनी भीड़ जरूरी है, क्या औचित्य है इतनी भीड़ ओर काफिले की ।
क्या इन प्रत्याशियों को जनता को होने वाले मुसीबतों से कोई सरोकार नही, यदि नही तो फिर ये कैसे जन प्रतिनधि बन जनता की समस्या को दूर करने की कोशिश करेंगे ।
चुनाव आयोग को चाहिए कि चुनाव में इस तरह की फिजूल खर्ची पर रोक लगाए, इन बड़ी बड़ी रैलियों का खर्चा प्रत्याशियों के चुनावी ख़र्च के हिसाब में जोड़ा जाए । जनता को होने वाली परेशानी के लिए ईन पर जुर्माना लगाया जाय । जिस से भविष्य में इस तरह की परेशानी से जनता को बचाया जा सके । रैलियों के मद्देनजर ट्रेफिक की समुचित व्यवस्था की जानी चाहिए ।
*हेमेन्द्र सोनी @ BDN जिला ब्यावर*

About Author

Hemendra Soni

M.D. & Chief Editor of BeawarDailyNews.com

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*

eight − 2 =

*