ब्यावर शहर की सभी ATM मशीने खाली जनता हो रही परेशान

ब्यावर शहर की सभी ATM मशीने खाली जनता हो रही परेशान

*BDN*
*ब्यावर शहर की सभी ATM मशीने खाली जनता हो रही परेशान*
आज 14 नवम्बर सोमवार की अल सुबह BDN एडमिन द्वारा शहर की सभी ATM मशीनों का मोके पे जाकर सर्वे किया गया जिसमे पाया गया की शहर की लगभग सभी ATM मशीने या तो खाली हो चुकी हे या बंद पड़ी जिस कारण सुबह 6 बजे से ही पैसे निकालने के लिए लोगो को भटकते हुए देखा गया ।
शहर की SBI समता भवन, सिंडिकेट बैंक मालियान चोपड़, PNB चांग गेट, SBI पाली बाज़ार, SBI चांग चितार रोड, बड़ोदा बैंक सिटी सिनेमा के सामने, ICICI बैंक सीटी सिनेमा के सामने, AXIS बैंक सिटी सिनेमा, HDFC बैंक विनोद होटल, SBBJ विनोद होटल, SBI रेलवे स्टेशन, SBI भगत चोराहा, SBI मुख्य शाखा, PNB बिजयनगर रोड, SBI बिजयनगर रोड, PNB छाजेड़ मार्केट, ICICI कुंदन भवन गली, HDFC फ़तेह मार्केट, केनरा बैंक सिटी डिस्पेंसरी के सामने, केनरा बैंक उदयपुर रोड, बैंक ऑफ़ बड़ोदा कालेज के पास आदि ATM मशीने या तो बंद मिली और किसी में पैसा नहीं था तो कोई मशीन खराब पड़ी मिली । इन सभी मशीनों पे उपभोक्ता पैसा निकालने के लिए अपने वाहन का पेट्रोल जला जला कर पुरे शहर के ATM के चक्कर लगा रहा हे जिससे उसे मानसिक परेशानी के साथ साथ आर्थिक परेशानी भी हो रही हे ।
शादियों के सीजन के कारण पैसे की डिमांड भी बढ़ी हुई हे और किराए के साथ साथ शादी में देने के लिए भी पैसे की तंगी से आम आदमी जूझ रहा हे और जो उसका खुद का पैसा बैंक में पड़ा हे तो ATM में नकदी की कमी की वजह से निकाल नहीं पा रहे हे ।
ATM में पैसा भरने वाली लॉजिस्टिक कम्पनियो और बेंको में आपसी तालमेल के अभाव में यह समस्या बहुत ज्यादा गंभीर होती जा रही हे । रविवार को जिन जिन ATM में पैसा भरा गया वह बहुत ही थोड़ी मात्रा में भरा गया जिस कारण ATM मशीने जल्द खाली हो गई यदि पेसा पूरी मात्रा में भरा जाता तो यह समस्या नहीं आती और नकदी की कमी की वजह से आम नागरिक परेशान नहीं होता ।
बेंको और लॉजिस्टिक कम्पनियो को आपसी समन्वय से नकदी की इस कृत्रिम कमी को दूर किया जा सकता हे जिससे आम नागरिको को आसानी रहेगी ।
आज गुरुनानक जयंती की सभी बेंको में छुट्टी हे इस कारण नकदी के समस्या अभी दो दिन और बनी रहने की समस्या हे ।
*हेमेन्द्र सोनी @ BDN ब्यावर*

About Author

Hemendra Soni

M.D. & Chief Editor of BeawarDailyNews.com

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*

6 − 5 =

*