शहर वासी आपस मे इस प्रकार से भी एक दूसरे की मदद कर सकते है

शहर वासी आपस मे इस प्रकार से भी एक दूसरे की मदद कर सकते है

BDN
शहर वासी आपस मे इस प्रकार से भी एक दूसरे की मदद कर सकते है
जैसे जैसे दुनिया बदलती है और आम आदमी नई नई तकनीक को अपनाता है वैसे वैसे आदमी के जीने का अंदाज, रहने, खाने पीने का अंदाज भी समय समय पर बदलता रहता है । उसकी सोच में भी बदलाव आता है इसी बदलाव से कुछ नए नए आइडिया जन्म लेते है और उनसे जिंदगी आसान बन जाती है, इन दिनों इसी संदर्भ में यह एक नया प्रयोग बहुत ही ज्यादा प्रचलित हो रहा है और इसका फायदा भी आम लोगो को मिल रहा है ।
हम शहर वासियों का किसी ने किसी का प्रत्येक दिन जयपुर, अजमेर, जोधपुर, उदयपुर, पाली, आदि कही भी आने जाने का काम पड़ता ही रहता है और कई बार वापस आते समय हम खाली गाड़ी ले कर आते है । क्यो ना हम खाली गाड़ी लाने के बजाय अपने शहर के व्यक्ति को साथ बैठा कर लाये तो हमारे को साथ भी मिल जाएगा और उसे सुविधा भी मिल जाएगी । इस प्रकार हम मानव धर्म भी निभा सकते है ।
एक उदाहरण के तौर पर में आपको यह बात समझाना चाहता हु :- पिछले दिनों की बात है में मेरे परिवार के सदस्यों को जयपुर एयर पोर्ट पर छोड़ने के लिए कार टेक्सी लेकर गया । वापसी के समय मे ओर ड्राइवर दोनों कार से जयपुर से ब्यावर के लिए निकल गए थे ।
अभी तक तो यह साधारण घटना ही है इसमे कोई नई बात नही । लेकिन जब में ब्यावर आने के बाद अगले दिन मुझे जिस घटना ने सोचने को मज़बूर किया वह यह थी ।
मुझे अगले दिन दोस्तो ओर समाज के लोगो से चर्चा करने पर ज्ञात हुवा की मेरे दो परिचित भी उसी दिन ओर उसी जयपुर में ही थे और लगभग उसी समय वो भी ब्यावर के लिए निकले थे लेकिन किसी को भी किसी के कार्यक्रम की जानकारी नही होने के कारण सभी अपने अपने साधन से ब्यावर आ गए, मेरे को जब जानकारी हुई तो मेंरे मन में काफी दुख और पश्चाताप हुवा की अगर हमारी आपस मे चर्चा हुई होती तो हम सब कार में एक साथ आ सकते थे । मेरी कार तो वैसे भी पूरी खाली वापस आई थी । मेरे को भी साथ मिल जाता और उनको सुविधा भी होती ओर पैसा भी बचता ।
इस उत्पन्न स्थिति से मेने सोचा कि क्यो ना हम वाट्स अप के जरिये मेसेज भेज कर हम एक दूसरे के सहयोगी बन सकते है ।
हम जयपुर, अजमेर, जोधपुर, उदयपुर, पाली, आदि कही भी जाये ओर वापसी में गाड़ी फ्री हो तो इसके लिए हम एक दूसरे की मदद कर सकते है । ? उदहारण के लिए मेने एक मैसेज ग्रुप मे भेजा की जैसे :- में जयपुर से शाम 5 बजे फ्री हो जाऊंगा मेरे पास 2 सवारी की जगह गाड़ी में खाली है कोई जयपुर से ब्यावर चलना चाहे तो इस नंबर पर सम्पर्क करें 90909XXXXX ।
अगर कोई बंदा जयपुर होगा तो वह संपर्क कर लेगा ।
कई छोटे गावो ओर शहरों में यह प्रयोग सफलता पूर्वक चल भी रहा है । कई जगह टेक्सी कार वाले भी इस सुविधा का उपयोग में ले रहे है ।
हेमेन्द्र सोनी @ BDN जिला ब्यावर

About Author

Hemendra Soni

M.D. & Chief Editor of BeawarDailyNews.com

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*

eight − five =

*