ब्यावर झलकिया

ब्यावर झलकिया

वर्दी में नजर आएंगे सफाईकर्मी

नगरपरिषद उपसभापति कक्ष में सोमवार को आयुक्त मुरारीलाल वर्मा की मौजूदगी में सफाई एवं स्वास्थ्य समिति की बैठक संयोजक रविंद्र जॉय की अध्यक्षता में हुई। इसमें शहर की सफाई व्यवस्था सुचारू बनाने के लिए विभिन्न निर्णय लिए गए। इनमें जमादारों सफाईकर्मियों को निर्धारित वर्दी पहनने के लिए पाबंद किया गया। महीने में एक या दो बार सफाई व्यवस्था का जायजा लेने के लिए बैठक रखने का निर्णय, शहर के एंट्री प्वाइंट और मुख्य मार्गों को अतिक्रमण मुक्त कर सफाई करने, परिषद की बिना अनुमति निर्माण कार्यों की तुरंत सूचना देने, शहर में हरा चारा बेचने वालों को गोशाला के पास खड़े होने, सातपुलिया से सिटी सिनेमा तक अतिक्रमण की सूची बनाकर पेश करने, लगातार दो राजकीय अवकाश आते हैं तो सफाईकर्मियों का एक अवकाश स्थगित कर सफाई व्यवस्था सुचारू बनाए रखने का निर्णय लिया गया। जिस पर सभी ने सहमति जताई। बैठक में स्वास्थ्य अधिकारी विजय सिंह चौधरी, स्वास्थ्य निरीक्षक हरिराम लखन, जमादार गंगाराम चांवरिया, संतोष घांवरी अादि मौजूद थे

सितंबर से पहले, तीसरे पांचवें शनिवार को पूरे दिन खुलेंगे बैंक

ब्यावर| बैंकके खाताधारियों के लिए अच्छी खबर। अब महीने के पहले, तीसरे पांचवें शनिवार को बैंकों में पूरे दिन कामकाज होगा। रिजर्व बैंक आॅफ इंडिया ने सितंबर से यह आदेश जारी किए हैं। इसकी एवज में महीने के दूसरे चौथे शनिवार को बैंकों में अवकाश रहेगा। आरबीआई और वित्त मंत्रालय के इस आदेश से बैंक कर्मचारी भी खुश हैं। उनका कहना है कि भले ही शनिवार को आधे दिन लेन देन होता हो लेकिन उन्हें अन्य काम से शाम तक बैंक में ही रहना होता था। अब महीने में दो बार उनके लिए पांच दिन का सप्ताह होगा।

संथारा पर स्टे के फैसले से जैन समाज में हर्ष

राजस्थानहाइकोर्ट द्वारा संथारा संलेखना पर जो रोक लगाई गई थी उस पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए न्यायाधीश ने कोर्ट के निर्णय पर स्थगन आदेश जारी किया।

इस फैसले से संपूर्ण समाज एवं संत समुदाय में हर्ष की लहर दौड़ गई। सकल जैन समाज के महेंद्र सांखला ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णय का समाज स्वागत करता है। इस निर्णय से लाखों लोगों की धार्मिक भावनाओं को राहत मिली है। साथ ही जैन समाज जनप्रतिनिधियों एवं संगठनों ने जो धर्म के प्रति समर्पण एवं एकता का जो परिचय दिया इसके लिए सभी धर्मावलंबियों को साधुवाद एवं धन्यवाद ज्ञापित किया।

डिवाइडर काटकर हाइवे पर बनाए रास्ते

किशनगढ़-ब्यावरसिक्सलेन पर ब्यावर से अजमेर के बीचबने डिवाइडर में अनधिकृत रास्ते निकालने से सड़क हादसे का खतरा बढ़ रहा है। पचास किलोमटर वाले अजमेर से ब्यावर मार्ग पर 25 से ज्यादा डिवाइडर को बीच में से तोड़ कर रास्ते बना लिए जाने से दो तरफा आवागमन भी बाधित हो रहा है। कई जगह पर तो डिवाइडर के बीच इतने बड़े रास्ते निकाल दिए गए कि भारी वाहन भी इनके बीच में से होकर सड़क को पार कर रहे हैं। इन अनधिकृत रास्तों के बीच में से टू-व्हीलर, फोर व्हीलर भारी वाहनों के अचानक सामने आने से सिक्सलेन पर तेज गति से अपनी लेन में चलने वाले वाहनों के साथ हादसे हो रहे हैं। इनमें सबसे ज्यादा टू-व्हीलर, थ्री व्हीलर और ट्रेक्टर समेत ट्रॉली वाले वाहनों से खतरा बढ़ा हुआ है। नियमानुसार सिक्सलेन पर डिवाइडर के बाद निर्धारित दूरी पर संकेतों के साथ बने रास्ते से इन वाहनों को सड़क के दूसरी मार्ग पर प्रवेश करना चाहिए। लेकिन हादसों के लिए सिक्सलेन पर मौजूदे खतरे की रोकथाम को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई जा रही है।

रास्तेबंद करने में नहीं दिखा रहे गंभीरता : नेशनलहाइवे ऑर्थोरिटी ऑफ इंडिया द्वारा पिछले कुछ महीनों से ब्यावर से अजमेर जाने वाले वाहनों से लगातार टोल वसूला जा रहा है। कई बार शिकायतों के बाद भी एनएचएआई द्वारा नेशनल हाइवे नंबर 8 को सुधारा नहीं गया है। इस कारण हाइवे पर डिवाइडर को काट कर अवैध रूप से बनाए गए ऐसे क्रॉसिंग से निकलने वाले वाहन हाइवे पर तेज गति से निकलने वाले वाहनों से टकरा रहे हैं। ऐसे में किसी बड़ी अनहोनी की आशंका लगातार बनी रहती है।

मांगलियावाससे खरवा के बीच सबसे ज्यादा जोखिम: अजमेरबाइपास से ब्यावर के बीच नेशनल हाइवे पर डिवाइडर को 29 जगह से काट कर अवैध रूप से काट कर क्रॉसिंग बनाई गई है। नेशनल हाइवे पर बने डिवाइडर को सबसे कम अजमेर से मांगलियावास के बीच 4 जगह से काटा गया है। जबकि सबसे ज्यादा मांगलियावास से खरवा के बीच डिवाइडर को 15 जगह से काटा गया है। खरवा से ब्यावर एंटर करने तक 10 जगहों पर डिवाइडर को काट कर अवैध क्रॉसिंग बनाई है।

ब्यावर. नेशनल हाइवे पर जान जोखिम में डालकर रोड क्राॅस करता युवक।

डिवाइडर काटकर हाइवे पर बनाए रास्ते

 

पुष्करणा दिवस पर हुए विविध कार्यक्रम

ब्यावर | पुष्करणासमाज की ओर से सोमवार को सुराणा नगर स्थित परशुराम भवन में पुष्करणा दिवस मनाया गया। अध्यक्ष सीए बृजमोहन व्यास वरिष्ठ सदस्य बालकिशन जोशी ने नए उष्ट्रवाहिनी पुष्टिकर देवी का माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन कर शुभारंभ किया। सचिव रमेश आचार्य ने पुष्करणा दिवस की महत्ता पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर एक सामाजिक गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें शहर में पुष्करणों के आगमन एवं अतीत पर वक्ताओं ने जानकारी प्रस्तुत की। बालकिशन जोशी ने गीत प्रस्तुत किया। दीपा आचार्य और अंजलि थानवी ने मनोरंजक सांस्कृतिक प्रस्तुति पेश की। इसके बाद हाउजी और अल्पाहार के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ। मौके पर सुदर्शन पुरोहित, सुशील पुरोहित, जेठानंद आचार्य, मधुसुदन व्यास, मुकेश आचार्य, धीरज आचार्य, नीरज आचार्य, जूही आचार्य, आदित्य आचार्य, इंजीनियर सतीश थानवी, डॉ. श्रेया व्यास थानवी समेत अन्य लोग मौजूद थे।

 

मेघा महोत्सव वाहन रैली आज

ब्यावर | शहरमें मंगलवार को सहारा इंडिया परिवार की ओर से मेघा महोत्सव मनाया जाएगा। सेक्टर वर्कर लक्ष्मीकांत गुप्ता के अनुसार इस अवसर पर मेघा महोत्सव रैली निकाली जाएगी। जो सुबह 9 बजे मिशन ग्राउंड से शुरू होकर शहर के मुख्य मार्गों से गुजरेगी।

सखियों ने मनाया सिंजारा

ब्यावर. सखी मंडल की ओर से सोमवार को सुभाष उद्यान में सिंजारा कार्यक्रम मनाया गया। लहरिया में सजी-धजी महिलाओं ने उमंग के साथ भाग लिया। इस मौके पर खो-खो, रूमाल झपट्टा, हाउजी गेम्स खेले। म्हारा लहरिया रा…, बन्ना रे बाग में झूला.., जैसे गीतों पर नृत्य कर समां बांध दिया।

सखियों ने मनाया सिंजारा

 

मगरे के पहलवानों ने मारी बाजी

ब्यावर | किशनगढ़में आयोजित हो रही जिला स्तरीय कुश्ती प्रतियोगिता मे जवाजा क्षेत्र के अनाकर राजकीय स्कूल के छात्रों ने दमदार प्रदर्शन किया। राजकीय माध्यमिक स्कूल अनाकर के छात्र विवेक सिंह ने 42 किलो भार वर्ग में अपने मुकाबले जीतते हुए पहला स्थान हासिल किया। पीटीआई सत्यनारायण और प्रधानाचार्य राजेंद्र प्रसाद शर्मा ने बताया कि 55 किलो भार वर्ग में दयाल ने द्वितीय, 58 किलोभार वर्ग में पूना काठात ने द्वितीय, 50 किलो भार वर्ग में अजय ने तृतीय, 40 किलो भार वर्ग में अनिल काठात ने तृतीय औरा 54 किलो भार वर्ग में प्रवीण ने भी तृतीय स्थान हासिल किया।

सुपर सिक्स टूर्नामेंट में एनसीसी विजेता

ब्यावर | दादीधामक्रिकेट ग्राउंड में चल रहे सुपर सिक्स टूर्नामेंट का समापन सोमवार को हुआ। आयोजक नृसिंहपुरा क्रिकेट टीम संचालक ने बताया कि मुख्य अतिथि सरमालिया सरपंच रमेश चौधरी और वार्ड एक के पार्षद हनुमान चौधरी थे। फाइनल में एनसीसी टीम विजेता रही।

भूखे पेट प्रतिभा निखारने की जिद

खेलप्रतिभाओं को निखारने के उद्देश्य से सरकार हर साल जिला स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिताएं आयोजित तो करवाती है। इन प्रतियोगिता में प्रदेश भर से माटी के लाल अपने हुनर का प्रदर्शन करने जुटते हैं। मगर इन खिलाड़ियों के हुनर को निखारने को लेकर सरकार कतई गंभीर नहीं दिखती। सरकारी स्कूलों में खिलाड़ियों को तैयार करने उपकरण और खेल के अन्य संसाधनों के लिए महज 2 हजार रुपए का अधिकतम बजट जारी करती है। ऐसे में 2 हजार रुपए में खिलाड़ियों को तैयार करना तो दूर एक हॉकी स्टिक भी नहीं खरीदी जा सकती। हॉकी जैसे खेल में हमारे प्रदेश के खिलाड़ियों को वे सुविधाएं नहीं मिलती जो हरियाणा और पंजाब के खिलाड़ियों को वहां की सरकार उपलब्ध करवाती है। ऐसे में प्रदेश के खिलाड़ियों से इंटरनेशनल प्रतियोगिताओं में बेहतर प्रदर्शन करने की आशा रखना बेमानी है। प्रदेश की सरकार इन खिलाड़ियों और उनके कोच को वो सुविधाएं और संसाधन उपलब्ध नहीं करवाती जिससे खिलाडिय़ों का हुनर और काबिलियत निखर सके और उनमें छिपी हुई प्रतिभाएं बाहर सके। ब्यावर में आयोजित हो रही 60 वीं जिला स्तरीय हॉकी और क्रिकेट प्रतियोगिता में भाग लेने जिले भर से आए खिलाड़ियों को आधे अधूरे संसाधनों के सहारे हुनर को निखारने का प्रयास करना पड़ रहा है। क्रिकेट और हॉकी जैसे खेल के लिए महत्ती जरूरी संसाधन का अभाव रहने के कारण खिलाड़ियों को ही नहीं उनके प्रशिक्षकों और टीम को लेकर आने वाले अध्यापकों को भी परेशानियों से दाने चार होना पड़ रहा है।

महज8 हजार के बजट में टूर्नामेंट का आयोजन

प्रतियोगिताका आयोजन करने के लिए स्कूल प्रबंधन को सरकार की आेर से महज 8 हजार रुपए का बजट उपलब्ध करवाया जाता है। स्कूल प्रबंधन को इस बजट में खेल मैदान की सफाई से लेकर टूर्नामेंट आयोजन का पूरा खर्चा करना पड़ता है। हॉकी प्रतियोगिता का आयोजन करवा रही छावनी स्कूल की पीटीआई सुशीला बडग़ुर्जर ने बताया कि 8 हजार के बजट में खेल मैदान को साफ करवाने के साथ टूर्नामेंट के लिए बॉल खरीदना, माइक लगाना और पुरस्कार खरीदने हैं। इसी बजट में स्टेट कैंप भी आयोजित करना है।

चोटिलहोने का खतरा

खिलाड़ियोंकी सेहत सुरक्षा को लेकर भी चिंताजनक स्थिति बनी रहती है। आयोजन स्थल पर हॉकी के लिए तैयार किया गया मैदान कहीं से भी जिला स्तरीय प्रतियोगिताओं के मापदंडों पर खरा नहीं उतरता। मैदान में सफाई करवाने के बाद भी कई खिलाड़ी पत्थरों से चोटिल हो रहे हैं। प्रतियोगिता स्थल पर चिकित्सा व्यवस्था उपलब्ध करवाने के लिए अस्पताल प्रभारी को पत्र लिखा गया। अस्पताल प्रबंधन की ओर से एक नर्स और एक वार्ड बॉय भेजा गया। लेकिन उनके पास पर्याप्त चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध नहीं है। मात्र कुछ बेंडेज और बीटाडीन ही उपलब्ध करवाई गई।

भूखे पेट प्रतिभा निखारने की जिद
ब्यावर. प्रतियोगिता में बिना सेफ्टी ग्रिप के हाॅकी खेलती छात्राएं।

वीर तेजा मेले में उमड़े श्रद्धालु, मांगी मनौती

समीपवर्तीझुंझारों का बाड़िया गांव स्थित लोक देवता वीर तेजाजी के थान पर सोमवार को भव्य मेले का आयोजन हुआ। वीर तेजा मेले के अवसर पर क्षेत्र के दो दर्जन से ज्यादा गांवों के ग्रामीण सज-धज कर मेले में पहुंचे। जहां मेलार्थियों ने तेजाजी के थान पर पूजा अर्चना करके मन्नतें मांगी।

स्व.मेवा काठात काका सरपंच नवयुवक मंडल के तत्वावधान में भरे इस मेले में आस-पास क्षेत्र के पाखरियावास, अंधेरी देवरी, लसाड़िया, धौलादाता, मसूदा, भिंडिया, दूजोड़िया, रूपनगर, जालिया, भरकाला, खीमपुरा, रावला बाड़िया, रामगढ़, जीवाणा, मांडेडा, धौलीघाटी, शिवपुरा इत्यादि गांवों से ग्रामीण अपने समूह में झंडे लेकर नाचते गाते हुए तेजाजी के थान पर पहुंचे। जहां भोपा पांचू भोपा के नेतृत्व में तेजाजी के नेजें चढ़ाए गए।

इसके बाद मेले में शामिल हो कर ग्रामीणों ने झूला-चकरी, खाने-पीने की चीजों का दिनभर लुत्फ उठाते हुए खरीदारी की। मेला संयोजक काका सरपंच नवयुवक मंडल के वार्ड पंच मेवा काठात, इब्राहिम काठात, सुलेमान, रहमान, मकबूल के निर्देशन में अमीन काठात अल्लानूर, अशरफ, सुरेंद्र मजीद, महफूज, इकबाल आदि पदाधिकारियों की देखरेख में मेले का सफल आयोजन हुआ।

ब्यावर. झुंझारों का बाड़िया में लोकदेवता तेजाजी के मेले में उमड़े श्रद्धालु।

मेले में सोमवार को कबड्‌डी प्रतियोगिता आयोजित की गई। प्रतियोगिता के दौरान कबड्‌डी खेलती टीमें।

वीर तेजा मेले में उमड़े श्रद्धालु, मांगी मनौती

ऑफिस कानूनगो शर्मा सेवानिवृत्त

ब्यावर | तहसीलकार्यालय के ऑफिस कानूनगो भंवरलाल शर्मा सोमवार को 36 साल की राजकीय सेवा से निवृत हो गए। इस अवसर पर उपखंड अधिकारी नमित मेहता और तहसीलदार मदनलाल जीनगर के नेतृत्व में तहसील में आयोजित कार्यक्रम में कार्यालय स्टाफ, पंजीयन विभाग स्टाफ, स्टांप वेंडर, नीतिपत्र लेखक, समेत अन्य लोगों ने उन्हें भावभिनी विदाई दी।

 

Categories: Breaking News

About Author

Hemendra Soni

M.D. & Chief Editor of BeawarDailyNews.com

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*

three + one =

*